National News Channel

आनलाइन छात्रवृत्ति आवेदन भरने में बरतें सतर्कता – डीएम

उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय (दैनिक कर्मभूमि) चित्रकूट: जिलाधिकारी अभिषेक आनन्द की अध्यक्षता में वित्तीय वर्ष 2022-23 में पूर्व दशम/ दशमोत्तर छात्रवृत्ति योजना के अंतर्गत जारी समय सारणी के अनुसार छात्र-छात्राओं के बायोमेट्रिक उपस्थिति मास्टर डाटा अपडेशन ऑनलाइन आवेदन की स्थिति से संबंधित बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में हुई।

जिलाधिकारी ने जिला विद्यालय निरीक्षक एवं जिला समाज कल्याण अधिकारी से कहा कि सभी प्रधानाचार्यो को एक पत्र भेजें कि छात्र-छात्राएं जो ऑनलाइन छात्रवृत्ति के लिए आवेदन कर रहे हैं उसकी एक प्रति विद्यालयों में जमा कराएं तथा छात्र छात्राओं के हस्ताक्षर एवं विद्यालय के नोडल के हस्ताक्षर अवश्य कराया जाए ताकि जब अधिकारी सत्यापन के लिए जाएं तो पता चल सके कि कहां पर कमी रह गई है तथा एक प्रधानाचार्यो से भी प्रमाण पत्र ले कि इतने बच्चों ने आवेदन किया है। जिला समाज कल्याण अधिकारी से कहा कि विद्यालयों में जो गत वर्ष बच्चों को छात्रवृत्ति मिली थी उसकी सूची विद्यालयों को उपलब्ध करा दें। उन्होंने सभी प्रधानाचार्यो से कहा कि विद्यालयों का बायोमेट्रिक मशीनें संचालित कराएं तथा उपस्थिति शत-प्रतिशत दर्ज कराएं, सभी बायोमेट्रिक लगाने का प्रमाण पत्र भी दें, जिन विद्यालयों में नहीं लगा है तो उसे जिला विद्यालय निरीक्षक चेक करें। उन्होंने कहा कि बच्चों को देखते हुए कि वह छात्रवृत्ति से वंचित न हो, आवेदन पत्र त्रुटि रहित भराएं ताकि उन्हें छात्रवृत्ति का लाभ दिलाया जा सके। अगर कोई समस्या है तो उसके लिए जिला समाज कल्याण अधिकारी तथा जिला विद्यालय निरीक्षक से संपर्क कर निस्तारण कराएं।

जिला विद्यालय निरीक्षक बलिराज राम ने समस्त प्रधानाचार्यो से कहा कि कन्या सुमंगला योजना में प्रगति कराएं। इसमें प्रगति बहुत धीमी है जो शासन से जन कल्याणकारी योजनाएं संचालित है, उनका छात्र-छात्राओं को लाभ दिलाया जाए।

जिला समाज कल्याण अधिकारी ज्ञानेंद्र सिंह भदौरिया ने बताया कि शासन द्वारा पूर्वदशम छात्रवृत्ति योजनान्तर्गत विद्यालय द्वारा मास्टर डाटाबेस में सम्मिलित होने की आनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि 16 अगस्त व द्वितीय चरण की अंतिम तिथि 7 अक्टूबर तथा लॉक किया जाने की अंतिम तिथि 22 अगस्त तक है।

जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी यशवंत मौर्य ने बताया कि अल्पसंख्यक छात्रों के लिए दो छात्रवृत्ति मिलती है, जिसमें भारत सरकार व राज्य सरकार से दिया जाता है।

इस मौके पर जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी श्यामसुंदर इकनोरिया, प्रधानाचार्य चित्रकूट इंटर कॉलेज रणवीर सिंह चैहान, जे पी इंटर कॉलेज जे पी मिश्रा आदि मौजूद रहे।

 

*ब्यूरो रिपोर्ट* अश्विनी कुमार श्रीवास्तव

*जनपद* चित्रकूट

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: