स्वास्थ्य टीमों की एक लाख से अधिक घरों में दस्तक

उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय (दैनिक कर्मभूमि) चित्रकूट: सात अक्टूबर से चल रहे दस्तक अभियान में स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने 18 अक्टूबर तक एक लाख से अधिक घरों में दस्तक दी। दस्तक के दौरान टीमों ने बुखार, टीबी, कोविड के लक्षण वाले मरीजों के साथ अति कुपोषित बच्चों को भी चिन्हित किया है। यह जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा भूपेश द्विवेदी ने दी है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान 31 अक्टूबर तक चलेगा। दस्तक अभियान सात अक्टूबर से प्रारम्भ हुआ और यह 21 अक्टूबर तक चलेगा।

जिला मलेरिया अधिकारी लाल साहब सिंह ने बताया कि इस अभियान में प्रशिक्षित आशा व आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की 808 टीमों को लगाया गया है। दस्तक की शुरुआत से 18 अक्टूबर तक टीमों ने एक लाख से अधिक घरों में संपर्क किया है। इसके साथ ही 378 वीएचएसएनसी बैठकें की जा चुकी हैं। 743 मातृ बैठकें की गई हैं। 583 स्थानों पर क्लोरीनेशन का डैमो भी कराया गया है।

डीएमओ ने बताया कि गृह भ्रमण के दौरान अब तक बुखार के 308 रोगियों को चिन्हित किया गया है। इन सभी की मलेरिया की जांच की गई है, लेकिन किसी की भी रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं आई है। 287 ऐसे मरीज मिले हैं, जिनमें कोविड के लक्षण मिले हैं। इन सभी की जांच कराई गई, लेकिन किसी की भी रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं आई है। टीबी के लक्षण वाले 35 रोगी मिले हैं, जिनकी जांच कराई जा रही है। इसके अलावा 35 अतिकुपोषित बच्चे चिन्हित किए गए। इसमें 15 को उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के लिए रेफर किया गया है। इस दौरान टीमों ने लोगों को संक्रामक रोगों के प्रति जागरूक करने के लिए रैली भी निकाली।

 

 

*ब्यूरो रिपोर्ट* अश्विनी कुमार श्रीवास्तव

*जनपद* चित्रकूट

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: