National News Channel

उपनिरीक्षक के सेवानिवृत्त पर किया गया सम्मान समारोह

उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय (दैनिक कर्मभूमि) चित्रकूट: जहाँ एक तरफ लोग सेवानिवृत्त होने के बाद मायूस होकर वापस घर लौटते है वही दूसरी तरफ मायूसी की इस परंपरा को तोड़ते हुए पियारियामाफी छीबो के राजेन्द्र ओझा लगभग 40 वर्षो तक उत्तर प्रदेश पुलिस में सिपाही से लेकर उपनिरीक्षक तक का निर्विवाद सफर कर प्रतापगढ़ जनपद से अपने गाँव वापस लौटेने पर ग्रामीणों ने माला फूल के साथ गर्मजोशी से उनका स्वागत किया, उसके बाद राजेन्द्र ओझा ने पुलिस विभाग से सेवानिवृत्त कर्मियों का माला पहनाकर सम्मान किया।

संबोधित करते हुए राजेन्द्र ओझा ने बताया कि पहले की अपेक्षा वर्तमान में हर जगह शिक्षण संस्थान तो है, लेकिन बच्चे नही है। उन्होंने भगवान के यहाँ देर है अंधेर नही‘‘ वाली कहावत को पुलिस से जोड़ते हुए कहा कि पुलिस विभाग में यदि ईमानदारी से कार्य हो तो देर नही है तुरन्त न्याय मिल जाए। उन्होंने कहा कि पुलिस के स्लोगन में बनी 2 मछलियो जिनका मुँह ऊपर की ओर है का मतलब बताते हुए कहा कि सिर्फ मछली है जो धारा के विपरीत तैरती है इसी तरह जीवन मे हमे भी विषम परिस्थितियों में मछलियों की तरह आगे बढ़ना चाहिए।

इस मौके पर पूर्व ब्लाक प्रमुख राजकुमार मिश्रा, उमाशंकर पाण्डेय, रामप्रकाश मिश्रा, वासुदेव पाण्डेय, नत्थू मिश्रा, ब्रजनंदन ओझा, अरविंद शुक्ला, दिनेश शुक्ला, रामसजीवन पाण्डेय, रमाशंकर द्विवेदी और शंकरचरण द्विवेदी सहित सैकड़ों ग्रामीण मौजूद रहे।

 

*ब्यूरो रिपोर्ट* अश्विनी कुमार श्रीवास्तव

*जनपद* चित्रकूट

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: