गांवों में न होने पाएं पेयजल की समस्या- डीएम

उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय(दैनिक कर्मभूमि)चित्रकूट ब्यूरो । जिलाधिकारी शुभ्रांत कुमार शुक्ल ने बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार में पेयजल के संबंधित समस्याओं के सम्बंध में बैठक की। जिसमें डीएम ने गांवों में पेयजल की समस्या को देखते हुए टैंकरों द्वारा पेयजल आपूर्ति कराने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए।

बैठक में जिलाधिकारी ने बताया कि जो अधिकारी नामित किए गए हैं, वे चिन्हित गांव/मजरे में जाकर पानी के संकट की समस्या देखेंगे। आने वाले समय में पेयजल का संकट के दृष्टि जो गांव चिन्हित किए गए है, वहां आप लोगों को हर शनिवार जाकर ग्राम पंचायतों में पेयजल टैंकरों व जलापूर्ति से सम्बंधित जानकारी लेनी है। कहा कि यह भी देखे की प्रति परिवार कितनी बालटियां पानी दिया जा रहा है, ग्राम पंचायतों में कितने बोरवेल है, कितने हैंड पंप हैं, कितने का रिबोर हुआ है, पानी आ रहा है कि नहीं। कहा कि सरकारी व एनजीओं के माध्यम से लगाए गए सोलर पंप को भी देखें तथा छोटी-मोटी समस्या होने पर ग्राम पंचायत उसे ठीक करा ले। उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारी अपने-अपने विभाग देखते हुए पेयजल के संकट को दूर करते हुए कार्य करने के निर्देश दिए। गांवों में पेयजल की आपूर्ति टैंकर, हैंडपंप के माध्यम से करना है। कहा कि गांवों के मजरो पर फोकस करना होगा तथा जो टैंकर खराब है, उसे ठीक कराकर पेयजल आपूर्ति कराए।

इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी अमित आसेरी, अपर जिलाधिकारी कुंवर बहादुर सिंह, उप जिलाधिकारी कर्वी पूजा यादव, उप जिलाधिकारी मऊ नवदीप शुक्ला, उप जिलाधिकारी मानिकपुर प्रमेश श्रीवास्तव, उप जिलाधिकारी राजापुर प्रमोद कुमार झा आदि संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

 

*ब्यूरो रिपोर्ट* अश्विनी कुमार श्रीवास्तव

*जनपद* चित्रकूट

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: