फैक्ट्री के मैनेजर की हुई हत्या या ऐक्सिडेंट ?

उत्तर प्रदेश ( राष्ट्रीय दैनिक कर्मभूमि)जौनपुर

 

जौनपुर। जलालपुर थाना क्षेत्र के लखनऊ -वाराणसी हाइवे पर लहंगपुर गांव में एक युवक की संदिग्ध परिस्थियों शव मिलने पर सनसनी फैल गई , परिवारीजन इसे लूट और हत्या बता रहे है जबकि पुलिस इसे सड़क हादसा बता रही है। फिलहाल घटना की सूचना पर मंगलवार को सुबह मौके पर पहुंची पुलिस शव को अपने कब्जे मे लेकर मामले की जांच -पड़ताल में जुट गयी है।

घटना के संबंध मे मृतक लालमन की बहू पूजा ने बताया कि रोज की तरह सुबह करीब सात बजे वह अपनी बाइक से फैक्ट्री ड्यूटी पर गये थे, रात को वापस घर आ रहे थे। रास्ते में अज्ञात बदमाशों ने उनक़ो बुरी तरह मारपीट कर गंभीर रुप से जख्मी कर दिया था। दोनो पैर तोड़ दिये थे और सिर पर प्रहार किये थे। इसके बाद रात को ही उनको इलाज के लिए पास के अस्पताल फिर वाराणसी ले जाया गया। वाराणसी मे पं दीनदयाल अस्पताल मे चिकित्सकाें ने उन्हे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद शव लेकर लोग घर आ गये।

परिजनों के अनुसार बदमाश मृतक की बड़ी मोबाईल, सोने की चेन, पर्स आदि भी ले गये है। स्वजनों के मुताबिक लाल मोहन को आज मंगलवार को फैक्ट्री के काम से कही बाहर जाना था। फर्श मे फैक्ट्री के कुछ पेपर भी थे।

मूल रुप से देवरिया जिले भेड़ी,बकरुवा क्षेत्र के निवासी लालमोहन यहां पर मकरा त्रिलोचन मे रामाप्लाई लि. फैक्ट्री में बतौर मैनेजर कार्य करते थे।

वह यहां पर गौशाला के पास अपना आवास बनवाकर पत्नी सावित्री (45 वर्ष) पुत्र संदीप और बहू पूजा के साथ रहते थे। संदीप भी पास की एक फैक्ट्री मे काम करते हैं। स्वजनों के मुताबिक यहां गांव मे किसी से कोई विवाद नही था। फैक्ट्री के अंदर की बात हम लोग नहीं बता सकते। फिलहाल हत्याकांड की वजह फैक्ट्री के अंदर के किसी मामले को लेकर जोड़ा जा रहा है।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: